आंतरिक कर्म की परिभाषा क्या है आंतरिक कर्म किसे कहते हैं | deep object definition in hindi ?

प्रश्न : आंतरिक कर्म को परिभाषित कीजिये ?

उत्तर : आंतरिक कर्म (deep object) की परिभाषा निम्नलिखित है –

वाक्य की आंतरिक संरचना का कर्म-कारक, जो बाह्य-संरचना में कर्म से इतर रूप (प्रायः कर्ता) में विद्यमान रहता है। यथा – ‘खाना खाया गया‘ में ‘खाना‘ कर्ता है, परंतु इस वाक्य की आंतरिक संरचना ‘सबने खाना खाया‘ में ‘खाना‘ कर्म-रूप है। व्याकरण की यह कोटि वाक्यों की आंतरिक और बाह्य संरचना के भेद को प्रकट करती है।

question : define the term deep object in hindi ?

answer : ऊपर आंतरिक कर्म की अर्थात deep object in hindi की परिभाषा देखिये –

स्थिर विद्युत बल किसे कहते हैं , स्थिर वैद्युतिकी बल क्या है परिभाषा , सूत्र static electric force

static electric force definition in hindi स्थिर विद्युत बल किसे कहते हैं , स्थिर वैद्युतिकी बल क्या है परिभाषा , सूत्र स्थिर विद्युत बल के लिए कूलॉम का नियम लिखें।